ALL मध्यप्रदेश देश राजनीति धर्म मनोरंजन खेल व्यापार
अन्य राज्यों में फंसे प्रदेश के मजदूरों के लिये चल रहे बेहतर व्यवस्था के प्रयास : विष्णुदत्त शर्मा
April 1, 2020 • ajay dwivedi • राजनीति

प्रदेश अध्यक्ष ने संसदीय कार्य मंत्री को दी प्रदेश भाजपा द्वारा किए जा रहे प्रयासों की जानकारी
भोपाल। प्रदेश के कई हिस्सों विशेषकर बुंदेलखंड क्षेत्र के कई मजदूर देश के विभिन्न राज्यों गुजरात, महाराष्ट्र, दिल्ली, तेलंगाना आदि में फंसे हुए हैं। हमने अपने स्तर पर प्रयास करके, पार्टी के लोगों से बातचीत करके उनके लिए भोजन, आवास एवं चिकित्सा व्यवस्था उपलब्ध कराने के प्रयास किए हैं। हम और भी बेहतर व्यवस्थाओं के लिए प्रयास तथा उनकी समस्याओं का अध्ययन कर रहे हैं। इसमें हमें जहां भी केंद्रीय सहयोग की आवश्यकता होगी, उस संबंध में हम केंद्र से भी मदद के लिए आग्रह करेंगे। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व खजुराहो सांसद श्री विष्णुदत्त शर्मा ने बुधवार को संसदीय कार्य मंत्री श्री प्रहलाद जोशी एवं श्री अर्जुन मेघवाल से वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान कही। 
संसाधन जुटाने की कोशिशें जारी हैं
केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री श्री प्रहलाद जोशी एवं श्री अर्जुन मेघवाल ने बुधवार को पार्टी के सभी सांसदों से चर्चा कर कोरोना महामारी के खिलाफ चल रही लड़ाई में आ रही समस्याओं और उनके द्वारा किए जा रहे प्रयासों की जानकारी ली। इस दौरान प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद श्री विष्णुदत्त शर्मा ने उन्हें बताया कि प्रदेश में लॉकडाउन की स्थिति ठीक चल रही है। पीड़ितों और प्रभावितों की सहायता के लिए हमारे कार्यकर्ता काम कर रहे हैं। महामारी के खिलाफ लड़ाई में संसाधन जुटाने के लिए किए गए प्रयासों की जानकारी देते हुए श्री शर्मा ने बताया कि उनकी ओर से सांसद निधि से एक करोड़ रुपये एवं एक माह का वेतन प्रधानमंत्री राहत कोष में दिये जा चुके हैं। उससे पहले उनके संसदीय क्षेत्र के तीनों जिलों कटनी, पन्ना और छतरपुर में वेंटिलेटर की खरीद के लिए 30 लाख रुपये दिये गए थे। श्री शर्मा ने बताया कि इंडियन ऑयल कार्पोरेशन के अधिकारियों से बातचीत करके तीनों जिलों में मास्क, सैनिटाइजर आदि की खरीद के लिए संसाधन उपलब्ध कराने की बात रखी गई थी। इसके बाद इंडियन ऑयल कार्पोरेशन ने तीनों जिलों के लिए 7-7 लाख रुपये की स्वीकृति दे दी है। श्री शर्मा ने बताया कि कटनी में सिंधी समाज की हरे माधव सत्संग समिति ने प्रभावितों की मदद के लिये 13 लाख रुपये दिये हैं। उन्होंने बताया कि इस संस्था के बच्चों ने भी अपनी गुल्लकें तोड़कर 21 हजार रुपये एकत्र किए और मुख्यमंत्री राहत कोष में दान कर दिये। श्री शर्मा ने बताया कि बच्चों का यह प्रयास कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में भावनात्मक रूप से काफी महत्वपूर्ण है।