ALL मध्यप्रदेश देश राजनीति धर्म मनोरंजन खेल व्यापार
घरों में कैद हुए लोग, पसरा सन्नाटा, प्रधानमंत्री की अपील का व्यापक असर
March 26, 2020 • ajay dwivedi • मध्यप्रदेश

मेडिकल स्टोर्स, किराना दुकानों पर लग रही भीड़, पुलिस, प्रषासन को इस ओर ध्यान देने की जरूरत

gajraj singh meena
ब्यावरा। कोरोना वायरस की महामारी से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 14 अप्रैल तक सम्पूर्ण देष में लाॅकडाउन की अपील का जिला सहित ब्यावरा नगर में व्यापक असर देखा जा रहा हैं। लोग अपने घरों में कैद हो गए हैं, बाजार में 12 बजे बाद सन्नाटा पसर जाता हैं। वहीं प्रधानमंत्री की अपील पर प्रषासन और पुलिस द्वारा भी आम जनता से अपनी सुरक्षा के लिए की जा रही अपील का लोगों में असर देखा जा रहा हैं। लोगों को बताया जा रहा है कि वह घर से बाहर न निकले, एक दूसरे से दूरिया बनाए रखे। सुबह 7 से 12 में प्रषासन द्वारा दी जाने वाली ढील में लापरवाही देखी जा रही है। किराना दुकान और मेडिकल स्टोर्स पर भीड़ एक साथ कई लोग किराना व दवाई लेते नजर आते है, जबकि मेडिकल स्टोर्स को पूरे दिन छूट दी गई। ब्यावरा के पटेल मेडिकल स्टोर्स व अन्य मेडिकलों पर भीड़ देखी जा रही। वही प्रषासन द्वारा मास्क और सेनिटाइजर के दाम चढ़ा कर लोगों से पैसा वसूला जा रहा है। नगर के कुछ वरिष्ठ लोगों का कहना है कि ऐसी घडी में जहां देष युद्व ऐसी परिस्थितियों से गुजर रहा है, वहीं मेडिकल स्टोर्स को भी सहयोग देना चाहिए और वह दाम बढा कर लोगों को लूठने जैसा कार्य कर रहे। पुलिस, प्रषासन को भीड़भाड़ और दामों में किए जा रहे इजाफे की ओर ध्यान देने की जरूरत हैं।   
गुरूवार को एसडीएम संदीप अष्टाना और एसडीओपी किरण अहिरवार ने किराना व्यापारी, सब्जी विक्रेता और मेडिकल स्टोर्स की एक आवष्यक बैठक आयोजित की, जिसमें निर्देष दिए कि दूध डेरी, किराना व्यापारी, सब्जी विक्रेता अपने अपने प्रतिष्ठान बंद करा कर होम डिलेवरी की जाएगी। उसके लिए कर्मचारियों को पास जारी किए जाऐगें। वही साथ मेडिकल स्टोर्स संचालकों को निर्देष किया की वह एक मीटर की दूरी बना कर दवाईयां दें, ताकि सौसल डिस्टेंसिंग बनी रहे। समाजसेवी जागरूकता नागरिकों द्वारा कच्ची भोजना सामग्री के पैकेट बना कर जरूरत मंदों को घरों पर दिया जाएगा।
स्टेषन पर पूणे-ग्वालियर ट्रेन आने से मची अफरा तफरी
केन्द्र सरकार द्वारा सभी ट्रेनो को कोरोना वायरस के चलते बंद किया, ऐसे में गुरूवार को ब्यावरा स्टेषन पर पूणे-ग्वालियर ट्रेन आने से अफरा तफरी मच गई। रेल्वे प्रषासन ने रेल को रोक जांच की गई तो पता चला की ट्रेन खाली है उसमें केवल रेल्वे कर्मचारी है, जिन्हंे सेनिटाइजर कर आगे भेज दिया गया।
निराश्रितों को वितरित किया भोजन
बंद के दौरान श्रीनृसिंह बीड़ मंदिर सेवा समिति द्वारा ब्यावरा में निराश्रित लोगों को भोजन वितरित किया गया। बालकृष्ण साहू, पत्रकार ब्रजेष त्रिवेदी, सुरेष कुषवाह, अंकुर शर्मा, प्रकाष कुषवाह, हरीष नामदेव, बाबी मेवाड़े, सुनील अक्षत, सिद्वार्थ शर्मा आदि मौजूद थे।
इनका कहना है
सभी लोगों को सूचित किया जा रहा कि बिना वजह घरों से बाहर न निकले, लेकिन कुछ लोगों द्वारा उसका पालन नहीं किया जा रहा है, जिसके लिए निर्णय लिया है लोगों के घरों पर सामग्री पहंुचाई जाए, जिससे की दूरी बने रही। जिन मेडिकल स्टोर्स पर सेनिटाइजर के दाम बढ़ा कर लिए जा रहे मैं उनकी जांच कराता हंू।
संदीप अष्टाना, एसडीएम ब्यावरा।
नागरिक घर पर रहकर अपनी और प्रषासन की मदद करें- कलेक्टर
नवागत कलेक्टर श्री नीरज कुमार सिंह ने किया पदभार ग्रहण
जिले में नव नियुक्त कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने आज राजगढ़ कलेक्टर का पदभार ग्रहण कर लिया है। श्री सिंह पूर्व में उप सचिव वित्त के पद पर पदस्थ थे। इस से पूर्व श्री सिंह दमोह कलेक्टर रहे है। कलेक्टर श्री सिंह ने अपने पदभार ग्रहण करने के तत्काल बाद मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत मृणाल मीणा एवं सयुक्त कलेक्टर रामाधार सिंह अग्निवंषी से जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिये अभी तक किए गए उपायों एवं तैयारियों की जानकारी ली। उन्होंने मुख्य चिकित्सा एवं स्वस्थ्य अधिकारी डा केके श्रीवास्तव से जिला चिकित्सालय मे की गई व्यवस्था की जानकारी ली। कलेक्टर ने पदभार ग्रहण करने के उपरांत जिले के नागरिको से अपील की है कि वह लाकडाउन के दौरान घर रहें और कोरोना से लड़ाई में अपनी स्वयं की अपने परिवार और इस हेतु कार्यवाही कर रहे प्रषासन की मदद करें। उन्होने कहा कि इस महामारी में नागरिकों की जागरूकता जरूरी है। उन्होने कहा कि प्रषासन के निर्देषों का पालन करना नागरिकों के लिए जरूरी है। प्रषासन नागरिको की सुविधाओं का विषेष ध्यान रख रहा है। किसी को कोई तकलीफ नही होने दी जाएगी। शासन द्वारा प्रातः काल सब्जी भाजी और किराना के लिए समय दिया गया है।

बैठक में लिया गया निर्णय
-प्रत्येक तहसील स्तर पर प्रातः काल लोगो को सब्जी, दूध, सामान आदि खरीदने के लिए सीमित अवधि के लिए छूट दी जाएगी। इस तय सीमा में वापस आना है।
-सफाई कर्मचारी, स्वास्थ्य कर्मचारी, पुलिस आदि आवष्यक मास्क एवं सुरक्षा के इंतजामत के साथ अपना काम करंेगे।
-जिले में लगने वाली हाट बाजार पर प्रतिबंध रहेगा।
-किराना सामान के लिए होम डिलेवरी व्यवस्था बनाई जा रही है।
-मोटर सायकल पर एक व चार पहिया वाहन पर दो से अधिक व्यक्ति आवष्यक कारण के साथ चल सकेगे। बिना कारण घूमने पर कार्यवाही होगी।
-बाहर से आने वाले लोगो को जिला सीमा के नाके से अन्दर नही आने दिया जाएगा।
-ट्रको और वाहनो में बैठकर आ रहे यात्रियों को नाके पर रोका जाएगा। ट्रक के विरूद्ध चालानी कार्यवाही होगी।
-खाली ट्रेने गुजरने की दषा में स्टेषन पर सवारी न उतरे इसके लिए स्टेषन मास्टर को सूचित किया जाएगा। (खाली ट्रेनों में कुछ सवारी बैठी देखी जा रही है)।
-राजस्थान बार्डर से प्रवेष करने वाले व्यक्तियों को सख्ती से रोका जाएगा।
-दानदाता मुख्यमंत्री राहत कोष में दान देकर सम्बधित एसडीएम तहसीलदार को सूचना दें, ताकि उनके नाम को अखबारों में प्रकाषित किया जा सके।
-जिले में मास्क सेनेटाइजर की आपूर्ति के लिए जरूरी कदम उठाए जाएंगे।
-आवष्यक सामग्री की आपूर्ति के लिए एस.डी.एम. रूकावट दूर करंेगे।
-जुकाम, खांसी बुखार के सस्पेक्टेड़ प्रकरणों की जांच कराई जाएगी।