ALL मध्यप्रदेश देश राजनीति धर्म मनोरंजन खेल व्यापार
कलेक्टर, एसपी, सिविल सर्जन व सीएमएचओ हुए लाईव
March 20, 2020 • ajay dwivedi • मध्यप्रदेश

कोरोना वायरस के बारे में दी जानकारियां
sanjay sharma
खरगोन,  कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को रोकने के लिए षुक्रवार को जनसंपर्क विभाग के फेसबुक पेज पर कलेक्टर श्री गोपालचंद्र डाड, पुलिस अधीक्षक सुनील पांडेय, सिविल सर्जन डाॅ. राजेंद्र जोषी एवं सीएमएचओ डाॅ. रजनी डावर ने लाईव होकर जानकारियां दी। कलेक्टर श्री डाड ने मप्र षासन द्वारा लगाए गए प्रतिबंध तथा स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी किए गए दिषा निर्देष के बारे में संबोधित किया। वहीं उन्होंने जिला स्तर पर उनके द्वारा कोरोना वायरस को लेकर किए गए प्रतिबंधात्मक आदेष के बारे में पुनः अपील करते हुए कहा कि आप प्रतिबंधात्मक आदेषों का अक्षरषः पालन करने को कहा। साथ ही उन्होंने कहा कि प्रतिबंधात्मक आदेष में जिन-जिन कार्यों पर प्रतिबंध लगाया गया है, उसके बारे में अपने आसपास के लोगों को भी बताएं और पालन करने के लिए कहें। आरटीओ द्वारा बनाए जा रहे लर्निंग लाईसेंस पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। 

डायल 100 पर भी दे सकते है सूचना
 जनसंपर्क विभाग के फेसबुक पेज पर लाईव कार्यक्रम में पुलिस अधीक्षक श्री पांडेय ने कहा कि अपने घरों तक सीमित रहें। जहां कोई व्यक्ति विदेष या अन्य प्रभावित प्रदेष से आया है, तो इसकी जानकारी डायल 100 पर भी दे सकते है। जानकारियों के अभाव में हम कहीं कोरोना को बढ़ा न दें। इसलिए यह जरूरी है कि ऐतिहात के तौर पर हम सभी एक-दूसरे के सहयोगी होकर कार्य करें और निरंतर सूचनाओं का आदान-प्रदान करते रहें। सीएमएचओ डाॅ. डावर ने कहा कि हम सबको एक सैनिक की तरह लड़ना है। इसमें हम भीड़-भाड़ से बचे। हाथों को बार-बार धोएं। संक्रमित व्यक्ति से दूर रहकर भी बच सकते है। कोरोना के उपचार के लिए जिला स्तर पर दामखेड़ा में 50 बिस्तरीय कोरेंटिना केंद्र बनाया गया है। इसके लिए महेष्वर में 6 बेड, बरूड़ में 10 बेड़ मेनगांव में 2 और जिला अस्पताल में 6 बेड का आयसोलेषन वार्ड बनाया गया है। वहीं जिले की सभी बार्डर पर मेडिकल टीमें तैनात कर दी गई है। जहां पर स्क्रीनिंग कार्य प्रारंभ हो गया है। 
कोरोना संक्रमण की चार स्थितियां
 जनसंपर्क विभाग के फेसबुक पेज पर सिविल सर्जन डाॅ. जोषी ने लाईव होकर कहां कि कोरोना चार महत्वपूर्ण स्टेज पर हम सभी को प्रभावित कर सकता है। पहली स्टेज को हम पार कर चुके है, जिसमें कोई बाहर का व्यक्ति आकर फैलाता है। दूसरी स्टेज लोकल स्प्रेड, जिसमें एक से अधिक लोगों में फैलता है। इस स्थिति में अभी हम गुजर रहे है। इसके लिए बचाव हाथ जोड़ना या कम से कम लोगों के संपर्क में आना सबसे बेहतर है। तीसरा कम्यूनिटी स्प्रेड में जब कोई समुदाय संक्रमित वस्तुओं या लोगों के संपर्क में आता है, तो तेजगति से फैलने लगता है और पूरा वातावरण प्रभावित करता है। इसी स्टेज में कई लोग अन्य क्षेत्रों में छींकते, खांसते है या अन्य के संपर्क में आते है, तो इसकी बढ़ने की संभावना तेज हो जाती है। चैथी स्टेज एपीडेमिक में हर 10वां या 15वां व्यक्ति पीड़ित होता है। यह स्टेज अनकंट्रोल होती है, जो चीन या इटली जैसे देषों में हम देख रहे है। 

सवालों के दिए जवाब
 जनसंपर्क विभाग के फेसबुक पेज पर आॅनलाईन कार्यक्रम के माध्यम से कलेक्टर, एसपी, सविल सर्जन व सीएमएचओ ने कोरोना वायरस से जानकारियां दी। फेसबुक पेज पर कई विवर्ष ने सवाल किए। 
सवालः- खरगोन के लिए हेल्पलाईन नंबर क्या है?
जवाबः- सीएमएचओ डाॅ. डावर ने हेल्पलाईन नंबर जारी किए है। कोरोना वायरस की जानकारी के लिए हेल्पलाईन नंबर 07282-231971 और मो.नं. 94072-73070 पर संपर्क कर सकते है।
सवालः- महाराष्ट्र या अन्य राज्यों से आने वाले व्यक्तियों का थर्मल स्क्रीनिंग कहा होगा।
जवाबः- जिला अस्पताल के अलावा बार्डर पर तैनात किए गए स्वास्थ्य अमले द्वारा स्क्रीनिंग किया जाएगा। हालांकि इसका थर्मल स्क्रीनिंग से कोई मतलब नहीं। केवल स्क्रीनिंग करना है, तो बार्डर पर किया जाएगा। 
सवालः- अन्य राज्यों से नौकरी करने आने वाले युवाओं के लिए क्या व्यवस्था?
जवाबः- फिलहाल ऐसे प्रषिक्षण और भर्ती पर रोक लगा दी गई है। जहां पर भीड़ या 20 से अधिक लोग एकत्रित हो रहे है। 
सवालः- षराब के अहातों पर कब रोक लगेगी।
जवाबः- 20 से अधिक लोगों के एकत्रित होने पर प्रतिबंध लगाया गया है। जिस स्थानों पर ऐसी भीड़ जमा होती है, वहां नजर रखी जा रही है। ऐसे अहातें नहीं है, जहां ज्यादा संख्या में भीड़ जमा होती है। फिर भी प्रतिबंधात्मक आदेष का पालन करने के लिए कहा जाएगा।