ALL मध्यप्रदेश देश राजनीति धर्म मनोरंजन खेल व्यापार
कमलनाथ सरकार के खिलाफ भाजपा का किसान आक्रोश आंदोलन आज
November 3, 2019 • ajay dwivedi

यशोधरा राजे सिंधिया के नेतृत्व में होगा किसान आक्रोश आंदोलन एवं धरना
khemraj mourya
शिवपुरी। प्रदेश भर के किसान बदहाल हैं, लेकिन प्रदेश सरकार को कतई उनकी चिंता नहीं है। बारिश से बर्बाद हुई फसलों का तत्काल मुआवजा दिया जाना चाहिए था, नहीं मिला। बिजली का बिल आधा करने की बात कही थी, लेकिन किसानों के बिजली बिल बढकऱ आ रहे हैं। प्रदेश सरकार की वायदा खिलाफी के विरोध में भारतीय जनता पार्टी 4 नवंबर को जिला मुख्यालय पर आंदोलन करेगी। भारतीय जनतापार्टी के जिलाध्यक्ष सुशील रघुवंशी ने भाजपा मीडिया सेंटर के माध्यम से बताया कि कमलनाथ सरकार की किसान कर्जमाफी के झूठे वादे का भी शिकार हुए हैं।

इसलिए भारतीय जनता पार्टी ने यह तय किया है कि किसानों की उपेक्षा के खिलाफ पार्टी 4 नवंबर सोमबार सुबह 11 बजे से किसान आक्रोश आंदोलन करेगी इसमें पूर्व कैबिनेट मंत्री एवं विधायक यशोधरा राजे सिंधिया के नेतृत्व में कलेक्ट्रेट के सामने धरना प्रदर्शन एवं ज्ञापन दिया जाएगा जिसमें  जिले के किसान और पार्टी कार्यकर्ता एकत्रित होकर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे तथा बिजली के बढ़े हुए बिलों की होली जलाई जायेगी। भाजपा जिलाध्यक्ष सुशील रघुवंशी ने कहा कि प्रदेश में कमलनाथ सरकार लगातार किसानों की अनदेखी कर रही है। विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने किसानों से कर्जा माफ करने का वादा किया था, लेकिन कर्जमाफी नहीं हुई। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी यह स्वीकार किया है कि कर्जामाफी नहीं हुई है। भीषण बारिश के कारण फसलों को नुकसान हुआ, लेकिन किसानों की सुध लेने के लिए मुख्यमंत्री या सरकार का कोई मंत्री उनके खेतों तक नहीं पहुंचे। ना सर्वे हुआ, न मुआवजा मिला। भाजपा जिलाध्यक्ष सुशील रघुवंशी ने भाजपा के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य मोर्चा के प्रदेश पदाधिकारी विधायक पूर्व विधायक जिला पदाधिकारी जिला कार्यसमिति मंडल कार्यसमिति मोर्चा एवं प्रकोष्ठ प्रकल्प के सभी पदाधिकारी व कार्यकर्ता एवं जनप्रतिनिधि के साथ-साथ सभी भाजपा कार्यकर्ताओं से आग्रह किया है कि कमलनाथ सरकार ने किसानों व आमजन के साथ जो छलावा किया है उसके विरोध में होने वाले इस आक्रोश आंदोलन में अपनी  सहभागिता सुनिश्चित कर कार्यक्रम को सफल बनाएं।