ALL मध्यप्रदेश देश राजनीति धर्म मनोरंजन खेल व्यापार
लोकायुक्त पुलिस ने सहायक यंत्री को 8 हजार की रिश्वत लेते पकड़ा
October 21, 2019 • ajay dwivedi

आंगनबाड़ी भवन के वैरिफिकेशन के लिए सरपंच पति से मांगी थी 2 प्रतिशत रिश्वत की राशि
khemraj mourya
शिवपुरी। कोलारस के जनपद पंचायत कार्यालय में पदस्थ सहायक यंत्री हरिनारायण पंडोलिया को ग्राम पंचायत चंदेनी की सरपंच नीलम शिवहरे के पति दीपक शिवहरे से 8 हजार रूपए की रिश्वत लेते लोकायुक्त पुलिस ने उनके हाथी खाना स्थित निवास पर रंगे हाथों पकड़ लिया और आरोपी को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ प्रकरण पंजीबद्ध कर लिया। सहायक यंत्री द्वारा ग्राम बांगरोद में बन रही आंगनबाड़ी भवन के वैरिफिकेशन के लिए सरपंच पति से लागत राशि का 2 प्रतिशत हिस्सा रिश्वत के रूप में मांगा गया था जिसके तहत 9 हजार रूपए सरपंच पति द्वारा पहली किस्त के रूप में सहायक यंत्री को दे दिए गए थे और आज दूसरी किस्त 8 हजार रूपए देना आज तय हुआ था और सुबह सरपंच पति उनके हाथी  खाना स्थित निवास पर उक्त  राशि देने के लिए पहुंचा था। 

जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत चंदेनी के बागरौंद में 7 लाख 35 हजार रूपए की लागत मूल्य से आंगनबाड़ी भवन बनाया गया है। जिसका वैरिफिकेशन जनपद पंचायत के सहायक यंत्री हरिनारायण पंडोलिया को करना था। जिसकी पहली किस्त निकल चुकी थी। दूसरी किस्त के लिए एमडी बुक पर सहायक यंत्री के हस्ताक्षर होने थे जिस पर हस्ताक्षर करने के लिए 8 हजार रूपए की रिश्वत की मांग सरपंच पति से की गई। जिसकी शिकायत श्री शिवहरे ने लोकायुक्त ग्वालियर में की और उक्त सारी बातचीत की रिकॉर्डिंग लोकायुक्त पुलिस को दी गई। इसके बाद आज रिश्वत की राशि देने की बात सहायक यंत्री और सरपंच पति के बीच हुई और तय समय के अनुसार शिकायतकर्ता रिश्वत के 8 हजार रूपए लेकर पहुंचा और जैसे ही सहायक  यंत्री ने रिश्वत की रकम हाथ में ली। वैसे ही शिकायतकर्ता के  इशारे पर लोकायुक्त पुलिस की टीम सहायक यंत्री के घर पर दाखिल हो गई और मौके से रिश्वत की रकम सहायक यंत्री  के पास से जप्त कर ली। इस दौरान लोकायुक्त पुलिस ने कैमिकल युक्त पानी से सहायक यंत्री के हाथ धुलवाए तो पानी का रंग  गुलाबी हो गया। लोकायुक्त ने उक्त राशि को जप्त कर सहायक यंत्री को गिरफ्तार कर लिया है।